logo
;
क्या सौर मंण्डल में उपस्थित है अद्रिष्य नौवा ग्रह

क्या सौर मंण्डल में उपस्थित है अद्रिष्य नौवा ग्रह

Published: 06 Oct, 2019

लगभग 5 वर्षों से, नेप्च्यून ग्रह से भी दूर उपस्थित सौर मण्डल के बाहरी हिस्से में जहां बर्फिले पिड पाये जाते है। वहंा पिण्डों में अजीब गुरूत्वीय प्रभाव देखा है जिससे कि एक नया विचार वैज्ञानिकों के बीच है। वैज्ञानिकों का मत है कि सौर-मण्डल के बाहरी क्षेत्र में 1 नौवा ग्रह भी हो सकता है जो वहंा पर उपस्थित पिंडो को अपनी ओर खीच रहा है और सौर-मण्डल में पिण्डों की चाल को प्रभावित कर रहा है। यह विचार वैज्ञानिकों के बीच लगातार बढ़ रहा है लेकिन वैज्ञानिक इस कथित नौवे ग्रह की खोज नहीं कर पाए है। लेकिन वैज्ञानिकों की एक जोड़ी एक नया विचार प्रस्तुत किया है जिसके अनुसार जिसके अनुसार हो सकता है कि जिसे नौवा ग्रह माना जा रहा है वह ग्रह न होकर एक ब्लैक होल (कृष्ण विविर) हो जिस करण लम्बे समय से वैज्ञानिक इसकी खोज करने में असफल रहे हैं।

पिछले अनुमानों के अनुसार यह अनजाना नौवा ग्रह पृथ्व से 5 से 15 गुना भार वाला तथा सूर्य से लगभग 45 अरब से 150 अरब की दूरी पर उपस्थित है, क्योकि इतनी दूरी में उपस्थित पिण्डों में सूर्य का प्रकाष बहुत कम पहुचता है इस लिए इस दुरी पर उपस्थित पिण्डों को खोजना एक बहुत ही अधित कठिन कार्य है।

ब्लैक होल होने की संभावना प्राप्त होने के बाद वैज्ञानिक जल्द ही फर्मी गामा किरण वेधषाला के द्वारा आसमान में गामा किरण की खोज करने की तैयारी में है । इस प्रकार की गामा किरण ब्लैक होल के द्वारा निकलती है तथा आसमान में क्रमवार चमक के रूप में प्राप्त होती है।

मुख्य लेखः https://www.sciencemag.org/news/2019/09/planet-nine-may-actually-be-black-hole


YOU MIGHT ALSO LIKE

मजदूरों से भरी ट्रेक्टर ट्रॉली पलटी, दो की मौत

मजदूरों से भरी ट्रेक्टर ट्रॉली पलटी, दो की मौत

विश्व आदिवासी दिवस पर हुए विविध कार्यक्रम

विश्व आदिवासी दिवस पर हुए विविध कार्यक्रम

आदर्श शिक्षा रत्न से सम्मानित हुए, शिक्षक गुनाराम चंदेल

आदर्श शिक्षा रत्न से सम्मानित हुए, शिक्षक गुनाराम चंदेल

Recent News

Advertisement

© Copyright YamrajNews 2019. All Rights Reserved.