logo
;
जिला कांग्रेस ने क्रांति दिवस विश्व आदिवासी दिवस एवं युवा कांग्रेस का मनाया गया स्थापना दिवस

जिला कांग्रेस ने क्रांति दिवस विश्व आदिवासी दिवस एवं युवा कांग्रेस का मनाया गया स्थापना दिवस

Published: 09 Aug, 2021

कवर्धा- जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नीलू चंद्रवंशी एवं युवा कांग्रेस अध्यक्ष आकाश केसरवानी के नेतृत्व में जिला युवा कांग्रेस स्थापना दिवस एवं विश्व आदिवासी दिवस धूमधाम से मनाया गया एवं क्रांति दिवस के अवसर पर देश के वीर बलिदानी सपूतों को याद किया गया

जिसमें युवा कांग्रेस की स्थापना दिवस मनाते हुए कार्यालय में युवा कांग्रेस का झंडा लहरा कर सलामी देकर एवं राजकीय गीत छत्तीसगढ़ गायन कर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं शाहिद वीरनारायण सिंह के छाया चित्र पर माल्यार्पण अर्पित कर युवा कांग्रेस स्थापना दिवस मनाया गया एवं क्रांति दिवस के अवसर पर सभी वीर शहीदों को याद करते हुए उनके बलिदानों और उनके देश के प्रति अधिकारों के लिए उन्हें धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कार्यालय में भारत माता की जय की जय कारे लगाते हुए क्रांति दिवस को अगस्त क्रांति के रूप में मनाया गया। 

साथ ही कांग्रेसियों ने विश्व आदिवासी दिवस को धूमधाम से मनाया एवं आदिवासी नेताओं एवं शहीदों को याद करते हुए उनका छत्तीसगढ़ सहित देश के प्रति उपचारों एवं प्रकृति एवं जल जंगल जमीन में उनकी भूमिका हेतु उनका आभार व्यक्त किया गया।

कार्यक्रम का संचालन कृष्णा कुमार नामदेव ने किया साथी कार्यक्रम को संबोधित नीलू चंद्रवंशी ईश्वर शरण वैष्णव आकाश केसरवानी गिरीश चंद्रवंशी लेखा राजपूत कृष्णा साहू कौशल चंद्राकर राजेंद्र द्विवेदी जलेश्वर यादव जसपाल साहू जितेंद्र मानिकपुरी जलेश्वर राजपूत अरविंद चंद्रवंशी ने किया एवं कार्यक्रम में आभार व्यक्त रामावतार चंद्रवंशी ने किया। जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री चंद्रवंशी जी ने युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि, हमारे जिला कांग्रेस कमेटी के अभिन्न अंग एवं जिला कांग्रेस कमेटी में ऊर्जा भरने वाले युवा कांग्रेस कमेटी के सभी पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को मैं उसकी स्थापना दिवस पर हार्दिक बधाई प्रेषित करता हूं एवं कांग्रेस कमेटी में उनके योगदान के लिए मैं उन्हें धन्यवाद ज्ञापित करता हैं। 

वहीं क्रांति दिवस के अवसर पर हम हमारे देश के लिए कुर्बान हुए वीर अमर शहीदों को शत शत नमन करते हैं।  आगे नीलू चंद्रवंशी जी ने बताया कि भारत को स्वतंत्रता दिलाने के लिए तमाम छोटे-बड़े आंदोलन किए गए। अंग्रेजी सत्ता को भारत की जमीन से उखाड़ फेंकने के लिए गांधी जी के नेतृत्व में जो अंतिम लड़ाई लड़ी गई थी उसे 'अगस्त क्रांति' के नाम से जाना गया है। इस लड़ाई में गांधी जी ने 'करो या मरो' का नारा देकर अंग्रेजों को देश से भगाने के लिए पूरे भारत के युवाओं का आह्वान किया था। यही वजह है कि इसे 'भारत छोड़ो आंदोलन' या क्विट इंडिया मूवमेंट भी कहते हैं। इस आंदोलन की शुरुआत 9 अगस्त 1942 को हुई थी, इसलिए इसे अगस्त क्रांति भी कहते हैं।

वहीं विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर कहा कि ना केवल छत्तीसगढ़ पर अपितु पूरे विश्व पर आदिवासियों का एक अलग पहचान अलग संस्कृति है जिनकी वजह से आज हमारी जल जंगल जमीन सुरक्षित है और देश के अनेकों आदिवासी नेताओं एवं क्रांतिकारियों अपने देश के प्रति अपने प्राण न्योछावर किए हैं एवं देश के निर्माण में अपनी अग्रणी भूमिका निभाई है इसलिए आज उनके कार्यों को याद करने का दिन है। आज देश में आदिवासियों को अपने ही जल जंगल जमीन की लड़ाई लड़नी पड़ रही है उनके संस्कृति हमारा धरोहर है इसलिए उसे संरक्षित किया जाना अत्यंत आवश्यक है ऐसे में प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी लगातार आदिवासियों को न्याय एवं उसका हक दिलाने के लिए प्रयासरत है उन्होंने आने को योजनाओं के माध्यम से आदिवासियों को पुनर व्यवस्थित करने का काम किया उन्होंने अनेक योजनाओं के माध्यम से वन्य संपदा से जुड़े चीज जैसे पेड़ों से प्राप्त होने वाले दुर्लभ वस्तुओं पर से बिचौलियों को हटाकर आदिवासियों के माध्यम से सीधे खरीद कर उनको लाभ दिलाने का काम किया है कांग्रेस पार्टी सहित शीर्ष नेतृत्व भी यह स्वीकारते हैं की जल जंगल एवं जमीन पर आदिवासियों का प्रथम अधिकार है। अभी हाल ही में कबीरधाम के अनेक आदिवासी को टाइगर प्रोजेक्ट के माध्यम से उनके यहां से स्कूल से हटाया जा रहा था जिस का विरोध करते हुए कैबिनेट मंत्री मोहम्मद अकबर ने उनको न्याय दिलाते हुए उनको प्रतिस्थापित ना किए जाने की लड़ाई लड़ी और सरकार में आने के बाद उनको न्याय दिलाया।

 कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष पारस अग्रवाल टीकम शर्मा गोपाल चंद्रवंशी कृष्णा कन्नू आमदे तूकेश्वर साहू महेश वैष्णव राकेश तुम बोली गौतम साहू महमूद अली भुनेश्वर पटेल प्रदीप सेन ओमकारेश्वर कौशिक आशीष चंद्रवंशी परमेश्वर पहुंची झम्मन चंद्रवंशी विमलेश निर्मलकर राजकुमार कुर्रे  रामलाल धुर्वे खेमलाल धुर्वे सुखदेव चंद्रवंशी पदम सेन महेंद्र कौशिक रामू साहू नरेश साहू भरत चंद्रवंशी राजू यादव सहित अनेक कार्यकर्ता एव्ं पदाधिकारीगण उपस्थित रहे।


YOU MIGHT ALSO LIKE

आबकारी विभाग के आतंक से बैगा युवक का  अभिरक्षा में मौत

आबकारी विभाग के आतंक से बैगा युवक का अभिरक्षा में मौत

कवर्धा में 8 किमी साईकिल रैली निकालकर सुपोषण स्वच्छता का संदेश दिए गए

कवर्धा में 8 किमी साईकिल रैली निकालकर सुपोषण स्वच्छता का संदेश दिए गए

नशामुक्ति, भिक्षा वृत्ति एवं बाल श्रम उन्मूलन अभियान

नशामुक्ति, भिक्षा वृत्ति एवं बाल श्रम उन्मूलन अभियान

Recent News

Advertisement

© Copyright YamrajNews 2019. All Rights Reserved.