logo
;
34 वें शिक्षक सम्मान समारोह में पहुची राज्यपाल सुश्री अनुसुईया

34 वें शिक्षक सम्मान समारोह में पहुची राज्यपाल सुश्री अनुसुईया

Published: 10 Sep, 2019

  समाज और देश को नई दिशा देने में

शिक्षकों की महत्वपूर्ण भूमिका: राज्यपाल सुश्री उइके

सेवानिवृत्त शिक्षक और मेधावी छात्र-छात्राएं सम्मानित

 रिपोर्टर विजय डाहीरे- 

बेमेतरा - राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके ने कहा कि शिक्षक कभी रिटायर नहीं होतें है। वे हमेशा शिक्षा का दीप जलाते रहते हैं और समाज को मार्गदर्शन देने में उनकी बड़ी भूमिका रहती है। शिक्षक एक दीपक के समान होता है जो स्वयं जलकर दूसरों को प्रकाश देता है। उन्होंने कहा कि शिक्षा केवल किताबी ज्ञान ही नही होता, बल्कि आज व्यवहारिक एवं नैतिक शिक्षा की अधिक जरूरत है। इस आशय के विचार राज्यपाल सुश्री उइके ने बेमेतरा के कृषि उपज मंडी प्रांगण में आयोजित 34 वें शिक्षक सम्मान समारोह के अवसर पर व्यक्त किए। इस अवसर पर राज्यपाल ने सेवानिवृत्त उत्कृष्ट 34 शिक्षकों और 20 मेधावी छात्र-छात्राओं को शाल-श्रीफल और प्रमाण-पत्र देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू एवं छ.ग. विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ. मुकेश वर्मा, क्षेत्रीय विधायक आशीष कुमार छाबड़ा विधायक नवागढ़ गुरूदयाल सिंह बंजारे विशेष रूप से उपस्थित थे।

राज्यपाल सुश्री उइके ने कहा कि शिक्षक जीवन पर्यन्त समाज और देश को नई दिशा देने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाता रहता है। उन्होंने कहा कि शिक्षक ही है कि वह देश को नेता-अभिनेता और अच्छा नागरिक देता है। उन्होंने कहा कि आचार-व्यवहार और अनुशासन से शिक्षा ग्रहण करने से वह बहुत ऊंचाईयों तक पहुंचता है। सुश्री उइके ने कहा कि शिक्षक दिवस के उपलक्ष्य में बेमेतरा में विगत 34 वर्षो  से आयोजित हो रहे इस कार्यक्रम में शामिल होते हुए मैं गौरवान्वित महसूस कर रही हूं। इस गरिमामय कार्यक्रम में इसके पहले भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ . ए.पी.जे. अब्दुल कलाम एवं लोकसभा की पूर्व अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन भी शामिल हो चुके हैं। राज्यपाल सुश्री उइके ने अपने गुरूजनों को प्रणाम करते हुए कहा कि वे गुरूजनों के आशीर्वाद से ही इस मुकाम तक पहुची है। सार्वजनिक जीवन में आने के पूर्व वे कॉलेज में अध्यापन का कार्य भी कर चुकी हैं। उन्होंने कहा कि पहले की शिक्षा में आचार विचार और संस्कार भी था। राज्यपाल ने बेमेतरा में अनवरत 34 वर्षो  से जारी शिक्षक सम्मान समारोह के लिए बेमेतरा विधायक को अपनी बधाई एवं शुभकामनाए दी। यह आयोजन आगे भी निरंतर जारी रहे। उन्होंने विद्यार्थियों को परीक्षा में असफल होने पर निराश नहीं होने की समझाइश दी। वे अपना हुनर और हौसला बुलंद रखे तो सफलता निश्चित ही मिलती है। राज्यपाल ने प्रतिभावान छात्रछात्राओं एवं दान दाताओं को बधाई दी। राज्यपाल ने शिक्षक सम्मान समारोह समिति बेमेतरा द्वारा प्रकाशित स्मारिका का विमोचन किया गया।

            शिक्षक सम्मान समारोह समिति के पूर्व संरक्षक एवं गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने आज यहां सम्मानित किए गए शिक्षकों और प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि शिक्षकों ने आने वाली पीढ़ी को सजाने-संवारने में अपना जीवन लगा दिया है। इसके साथ ही उन्होंने प्रतिभावान बच्चों को भी बधाई देते हुए कहा कि आयोजन का यह 34 वर्ष है। उन्होंने कहा कि बेमेतरा के शिक्षक सम्मान समारोह की विशेषता है कि इस कार्यक्रम का आयोजन दलगत भावना से ऊपर उठकर समाज के विभिन्न वर्गों के सहयोग से किया जाता है तथा इसकी गरिमा रही है। पूर्व राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन एक शिक्षक से राष्ट्रपति के पद पर सुशोभित हुए। बेमेतरा की पहचान अब शिक्षक सम्मान समारोह के रूप में होने लगी है। विधायक बेमेतरा ने अच्छी परंपरा का निर्वहन किया है। उन्होंने बच्चों से भौतिकवादी चकाचैंध से दूर रहकर अपनी पढ़ाई लिखाई में ध्यान देने की समझाइश दी। विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय दुर्ग के कुलपति डॉ  एम. के. वर्मा ने कहा कि शिक्षा का उद्देश्य मनुष्य का सर्वांगीण विकास करना है। स्वामी विवेकानंद ने कहा था कि मनुष्य की आत्मा के अंदर मानवता एवं जीवजन्तु के प्रति आदर भाव रखें, समाज के बीच ऐसे गुण को आत्मसात करें। उन्होंने कहा कि हमारे समाज में शिक्षकों के साथ ही बहुत से लोग हैं, जिनसे सीखने की आवश्यकता है।

 

आयोजन समिति के संरक्षक एवं विधायक श्री आशीष कुमार छाबड़ा ने कहा कि बेमेतरा के पूर्व विधायक स्व.रेवेन्द्र वर्मा द्वारा सन 1986 से शुरू किया गया शिक्षक सम्मान समारोह की परंपरा जारी है। जिसमें सेवानिवृत शिक्षकों के साथ-साथ प्रतिभावान छात्र-छात्राओं का सम्मान किया जाता है। यह आने वाली पीढ़ी को संजोने का एक प्रयास है, गुरू की महिमा है। आभार प्रगट करते हुए कलेक्टर श्रीमती शिखा राजपूत तिवारी ने कहा कि राज्यपाल महोदया ने इस कार्यक्रम में शामिल होकर इस आयोजन की गरिमा बढ़ाई। राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत जिन्दगी अनमोल है के बारे में राज्यपाल ने जो अपने विचारों से आर्शीवचन कहें वह सराहनीय है। नेत्रदान पखवाड़ा के अंतर्गत बेरला के एक परिवार द्वारा नेत्रदान करने पर राज्यपाल द्वारा सम्मानित किया गया।  पुरे प्रदेश में तीन नेत्रदान किया गया जिसमें बेमेतरा जिले का भी नाम शामिल है। राज्यपाल द्वारा शिक्षक सम्मान समारोह समिति बेमेतरा द्वारा प्रकाशित स्मारिका का विमोचन किया  गया। इस अवसर पर जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष अवनिश राघव, टीआर जनार्दन, अविनाश तिवारी, पार्षद वाहिद रवानी, प्रहलाद रजक , सहित जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी प्रकाश कुमार सर्वे, एएसपी, विमल कुमार बैस, जिला शिक्षा अधिकारी सी.एस.धु्रव, भानु प्रकाश सोनी, सहित गणमान्य नागरिक एवं शिक्षा जगत से जुड़े प्रतिनिधि उपस्थित थे।

 

इन सेवानिवृत शिक्षको एवं प्रतिभावान छात्र, छात्राओ का राज्यपाल ने किया सम्मान

छत्तीसगढ़ की राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके ने 34 सेवानिवृत शिक्षको एवं 20 मेघावी छात्र-छात्राओं का सम्मान किया गया इनमें- ईश्वरी प्रसाद कोसरिया प्रधान पाठक मोतिमपुर, अर्जून सिंह राजपूत व्याख्याता जेवरा, जयकरण प्रसाद साहू प्रा.पा. नवलपुर, गणेश कुमार चंदेल निनवा, महेश कुमार सोनी प्रा.पा. अर्जुनी, उमेश कुमार ठाकुर व्याख्याता बैजलपुर, नकुल प्रसाद शर्मा व्याख्याता जेवरा, सुरेन्द्र कुमार नायक प्रा.पा. गब्दा, तेजू राम साहू प्रा.पा. सिंगदेही, शंकर सिंह क्षत्रीय प्रा.पा. कुरूद, गोपेश कुमार वर्मा प्रा.पा. भिभौरी, दूजे राम साहू प्रा.पा. नया ढाबा, राधेश्याम कोशले प्रा.पा. बहेरा, द्वारिका प्रसाद वर्मा प्रा.पा. नेवनाराद्वास राम साहू व्याख्याता खर्रा, ओंकार प्रसाद साहू व्याख्याता खर्रा, श्रीमती प्रभावती रामटेके व्याख्याता आनंदगांव, पुनदास बर्वे प्राचार्य हसदा, सुधीर राम वर्मा प्रा.पा. देवसरा, दौलत राम वर्मा प्रा.पा. खिसोरा, मनहरण सिंह राजपूत प्रा.पा. तिरियाभाट, रामखिलावन व्याख्याता परपोड़ी, बिसाहू राम रात्रे प्रा.पा. कोगिंयाकला डेहारू राम साहू प्रा.पा.कंदई, रामावतार वर्मा, प्रा.पा. बीजागोड़, गेंदराम रात्रे प्रधान प्रा.पा. गातापार, कन्हैया लाल देंवागंन प्रा.पा. परपोड़ी, अशोक कुमार दुबे प्रा.पा. परपोड़ी, रामकुमार शर्मा प्रा.पा. साजा, रामचन्द्र सेवैया व्याख्याता कारेसरा, खेलन राम साहू व्याख्याता खाती, प्रहलाद दास वैष्णव प्राचार्य देवकर, विनोद कुमार ठाकुर प्रा.पा. लोहडगिया, देवन सिंह ठाकुर प्रा.पा. नगधा, जयलाल दास प्रा.पा. नारायणपुर, जीवन सिंह ठाकुर प्रा.पा. टोहड़ी, केवल राम सोनी व्याख्याता मूरता, रामनारायण प्रा.पा. मगरघटा,

प्रतिभावान छात्र-छात्रा- हाई स्कूल एवं हायर सेकण्डरी स्कूल सर्टीफिकेट परीक्षा  2019 छ.ग.मा.शि. में जिले में सर्वाेच्च अंक प्राप्त करने वाले छात्र छात्राओं को भी सम्मानित किया गया इनमें सूरज कुमार शासकीय उ.मा.वि.जेवरा 95.47 प्रतिशत, कु पर्षु सिन्हा ज्ञानोदय पब्लिक स्कूल बेमेतरा 95.50 प्रतिशत, हायर सेकण्डरी में योगेश बजाज सरस्वती शिशु मंदिर नवागढ़ 88.80 प्रतिशत, कु. अनिता शासकीय उ.मा.वि.अंधियारखोर 87.40 प्रतिशत, चन्द्रकांत जीनियस पब्लिक स्कूल साजा 88.40 प्रति, कु योगेश्वरी इंडियन पब्लिक स्कूल बेमेतरा 87.40 प्रति, जितेन्द्र कुमार शा.उ.मा.वि.केहका, 88.40 प्रति, कु.भावनी शा.उ.मा.वि.झाल 86.50 प्रति, कामता प्रसाद शा.उ.मा.वि. 90.60 प्रति, कु प्राची गोयल शा.उ.मा.वि.साजा 90.40 प्रति, देवप्रकाश शा.शिवलाल राठी उ.मा.वि.पिकरी 89.20 प्रति, कु परमेश्वरी शा. कन्या.उ.मा.वि.साजा 84.40 प्रति, इसी प्रकार हाई स्कूल सर्टीफिकेट परीक्षा 2019 सी.बी.एस.ई.पाठ्यक्रम जिले में सर्वाेच्च जिले में सर्वाेच्च अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थी इनमें- यशस्वी साहू एकेडमिक वल्र्ड स्कूल बेमेतरा 96.00 प्रति, कृष कुमार देवांगन एकेडमिक वल्र्ड सकूल 95.83 प्रति, संस्कार अग्रवाल एकेडमिक वल्र्ड स्कूल 88.40 प्रति, मेघा गुप्ता एकेडमिक वल्र्ड स्कूल 78.60 प्रति, पुरूषोत्तम साहू एकेडमिक वल्र्ड स्कूल 94.40 प्रति, निकहत फातिमा एकेडमिक वल्र्ड स्कूल 88.20 प्रति, वत्सल पारख एकेडमिक वल्र्ड स्कूल बेमेतरा 95.20 प्रतिअनुष्का अग्रवाल एकेडमिक वल्र्ड स्कूल बेमेतरा 94.60 प्रतिशत शामिल हैं

 

जिन्दगी अनमोल है, इसे खुलकर जिए- राज्यपाल

 

राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके ने जिले में आयोजित शिक्षक सम्मान समारोह के अवसर पर राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत आत्महत्या रोकथाम दिवस के मौके पर हस्ताक्षर अभियान में शामिल होकर हस्ताक्षर किए। उन्होंने अपने संदेश में लिखा है कि जिन्दगी बहुत अनमोल है, जिन्दगी खुल कर जिए। इस अवसर पर आयोजन समिति के पूर्व संरक्षक एवं गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू उपस्थित थे। समारोह की अध्यक्षता छ.ग. विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ.मुकेश वर्मा ने की। इस मौके पर विधायक एवं संरक्षक शिक्षक सम्मान समारोह समिति आशीष कुमार छाबड़ा विधायक नवागढ़ गुरूदयाल सिंह बंजारे, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती कविता साहू, कमिश्नर दुर्ग दिलीप वासनिकर, पुलिस महानिरीक्षक हिमंाशु गुप्ता, कलेक्टर श्रीमती शिखा राजपूत तिवारी, पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर, सेवानिवृत शिक्षक सहित गणमान्य नागरिक प्रतिभावान छात्र, छात्राएं उपस्थित थे।

 



YOU MIGHT ALSO LIKE

निरीक्षक अनिल शर्मा ने बढ़ाया कवर्धा पुलिस का मान ,लॉक डाउन के दौरान किये अनोखे कार्य को गृह मंत्रालय ने सराहा।*

निरीक्षक अनिल शर्मा ने बढ़ाया कवर्धा पुलिस का मान ,लॉक डाउन के दौरान किये अनोखे कार्य को गृह मंत्रालय ने सराहा।*

लोगों को सहज, सरल और शीघ्र न्याय दिलाना सरकार की प्राथमिकता-

लोगों को सहज, सरल और शीघ्र न्याय दिलाना सरकार की प्राथमिकता-

दर्द

दर्द

Recent News

Advertisement

© Copyright YamrajNews 2019. All Rights Reserved.