logo
;
आश्रम और छात्रावासों के अधीक्षक मुख्यालय में रहें, नहीं तो होगी  सीधे निलंबन

आश्रम और छात्रावासों के अधीक्षक मुख्यालय में रहें, नहीं तो होगी सीधे निलंबन

Published: 11 Sep, 2019


कलेक्टर श्री शरण

कलेक्टर ने आदिमजाति विकास विभाग के आश्रम-छात्रावास अधीक्षकों की मासिक बैठक में निर्देश दिए

कवर्धा, 11 सितम्बर 2019। कलेक्टर श्री अवनीश कुमार शरण ने आज आदिम जाति विकास विभाग द्वारां संचालित आश्रम-छात्रावास अधीक्षकों की मासिक बैठक लेकर उनके संस्था संचालन से लेकर अध्यापन और संधारण कार्यों की गहन समीक्षा की। बैठक में नवपदस्थ सहायक आयुक्त श्री आर. एस. टण्डन और समस्त अधीक्षक उपस्थित थे।  
  कलेक्टर ने जिले के आदिवासी बैगा बाहूल्य बोडला, पंडरिया तथा कवर्धा सहसपुर लोहारा विकासखण्ड में संचालित आश्रम-छात्रावास की अधीक्षकों को मुख्यालयों में रहने के लिए कड़े निर्देश दिए है। उन्होने कहा कि अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, तहसीलदार और नोडल अधिकारियो की औचक निरीक्षण के दौरान अधीक्षकों की अनुपस्थिति होने की सूचना मिली है, यह बहुत ही गभीर विषय हैं। उन्होने सख्त निर्देश देते हुए कहा कि मुख्यालयों में नहीं रखने वाले अधीक्षकों पर निलंबन जैसे कड़ी कार्यवाही की जाएगी। कलेक्टर श्री शरण ने आश्रमों तथा छात्रावासों में पेयजल की समस्या दूर करते हुए कन्या आश्रम दलदली, पंडरिया आश्रम, विशेष पिछडी जनजाति संस्था पोलमी और प्री. मैट्रिक छात्रावास बोक्करखार में हैण्डपम्प खनन का प्रस्ताव बनाने के लिए सहायक आयुक्त को निर्देश दिए। उन्होने बरसात के दिनों में होने वाली मौसमी तथा जलजनित बीमारियों की जानकारी लेते हुए सभी आश्रम-छावावासों में नियमित रूप से स्वास्थ्य परीक्षण कराने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने आश्रम-छात्रावासों में गुणवत्ताहीन सामग्री प्रदाय करने वाली एंजेसी को ब्लैक लिस्टेड करने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने रामपुर, रवीणपुर में निर्माणाधीन आश्रम-छात्रावासों की प्रगति की जानकारी भी ली। उन्होने सभी संस्थानों में किचन गार्डन विकसित करने और छोटी-छोटी मरम्मत के कार्य संधारित करने के लिए अधीक्षकों को निर्देशित किया।
कलेक्टर श्री अवनीश कुमार शरण ने बैठक में एजेण्डेवार समीक्षा करते हुए अन्य महत्वपूर्ण निर्देश भी दिए। कलेक्टर ने छत्तीसगढ़ हरियर कार्यक्रम के तहत आश्रम और छात्रावासों में रोपे गए मुनगा और अन्य पौधों की जानकारी। उन्होने निगरानी सिमति की बैठक आयोजित कर पालन प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के लिए कहा। कन्या आश्रम एवं छात्रावासों में महिला नगर सैनिक की जानकारी लेते हुए जहां पर कमी है, ऐसे संस्थानों में तत्काल व्यवस्था दुरूस्त करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने माह के प्रथम और तृतीय शनिवार को संस्थानों में गायन, लेखन, वाद-विवाद प्रतियोगित आयोजित करने के निर्देश दिए। इस माह के 13 से 15 सितम्बर तक हिन्दी सप्ताह के रूप में भाषण, गीत और वाद-विवाद प्रतियोगिता आयोजित करने के लिए कहा। माह में दो बार 15 और 30 तारीख तक स्वच्छता दिवस आयोजित करने के निर्देश दिए। बच्चों में पढ़ने और लिखने की क्षमता विकसित करने के लिए होम वर्क और रीडिंग हेबिट प्रति दिन शाम 7 से 9 बजे तक अनिवार्य रूप से करने के निर्देश दिए। बैठक में सहायक आयुक्त श्री आर.एस. टण्डन ने अधीक्षकों को कलेक्टर द्वारा जारी निर्देशों का कढ़ाई से पालन करने और मुख्यालयों में रहने के लिए कहा।



YOU MIGHT ALSO LIKE

प्राथमिक उप स्वास्थ्य केंद्र में रक्तदान शिविर आयोजित

प्राथमिक उप स्वास्थ्य केंद्र में रक्तदान शिविर आयोजित

खेलो इंडिया खेलो:एथलेटिक्स, आर्चरी, बैडमिंटन, फेंसिंग, हॉकी, तैराकी और फुटबाल के ट्रेनर हैं तो खोल सकते हैं सरकारी ट्रेनिंग सेंटर

खेलो इंडिया खेलो:एथलेटिक्स, आर्चरी, बैडमिंटन, फेंसिंग, हॉकी, तैराकी और फुटबाल के ट्रेनर हैं तो खोल सकते हैं सरकारी ट्रेनिंग सेंटर

लॉकडाउन कर्फ्यू का उलंघन करने वाले व्यापारी के प्रति मेहरबान पांडातराई सीएमओ

लॉकडाउन कर्फ्यू का उलंघन करने वाले व्यापारी के प्रति मेहरबान पांडातराई सीएमओ

Recent News

Advertisement

© Copyright YamrajNews 2019. All Rights Reserved.