logo
;
वृक्षा रोपण के नाम पर खाना पूर्ति देख रेख के आभाव में सुख रहे है पौधे

वृक्षा रोपण के नाम पर खाना पूर्ति देख रेख के आभाव में सुख रहे है पौधे

Published: 11 Sep, 2019


रिर्पोटर:-प्रहलाद साहू/बीरेन्द्रनगर कवर्धा

हर वर्ष हरियाली त्यौहार, पर्यावरण जागरूकता के नाम पर बड़ी तादाद में वृक्षा रोपण का कार्यक्रम कराया जाता है जिसमे क्षेत्र के समाज सेवक से लेकर अधिकारी वर्ग व बड़े बड़े नेता सामिल होते है जिसमे सामान्यता देखा गया है की अधिकांश कार्यक्रम किसी न किसी  स्कूल  में ही होता है लेकिन जिले के कुछ एक स्कूल को छोड़ दिया जाऐ तो हरियाली कही नजर नहीं आती अधिकांश पौधे  देख रेख के आभाव में सुख जाते है ।अब यहाँ सवाल उठता है की ,जब इनकी देखभल नहीं  की जा सकती तो लगाने का औचित्य्त क्या ।

 सहसपुर लोहारा ब्लाक के ग्राम बीरेन्द्रनगर ब्लाक का बडा गांव होने के सांथ सांथ स्कुल ग्राउंड भी बडा है पर ऐसे ग्राउंड का क्या जो लोगो को छायां भी नसिब ना हो अकसर देखा जाता है गर्मी छुटटी खत्म होने के पश्चात असाढ माह मे जिले भर के हर स्कुल ग्राउंड मे पौधा रोपण किया जाता है। उसके बावजुद भी एक भी पौधा नजर नहीं आता जिस तरह से पौधा रोपण किया जाता है अगर उसी तरह उनकी सुरक्षा का भी संकल्प ले ले तो हमेशा स्कुल ग्राउंड हरा भरा नजर आयेंगे लेकिन ऐसा होता नहीं है केवल फारमेल्टी निभाने के लिऐ पौधा रोपण किया जाता है उसके बाद छोड देते है भगवान भरोसे पानी तक नहीं डाला जाता यही कारण है कि साल दर सार पौधा रोपण के पश्चात एक भी पौधा साबुत नहीं बंच पाता जो लोगो को छायां देने के सांथ सांथ स्कुल ग्राउड का सोभा बढा सके। पौधा रोपड करने से हराभरा हरियाली से वातावरण स्वाक्ष और निर्मल तो रहता ही है सांथ ही शुद्ध आक्सीजन भी देते है जो लोगो को स्वाथ रहने मे बडी योगदान होती है इसीलिऐ स्कुल ग्राउंड को हमेशा पेड पौधों से हरा हुआ हरियाली रखना चाहिऐ

       बीरेन्द्रनगर स्कुल ग्राउंड मे पौधा रोपण कि कमी

बीरेनद्रनगर स्कुल ग्राउंड मे हर साल कई किस्म के पौधा लगाया जाता है बावजुद एक भी पौधा नहीं बंच पाता ग्राउंड खाली सुन्ना मैदान कि तरह महसुस होता है इसका भी एक कारण है खाली पौधा लगाकर छोंड देते है फिर बाद मे देखरेख नहीं किया जाता आर फिर घुमतु मवेशी चट कर जाते है इसीलिऐ हर साल पौधा रोपड के बावजुद हरियाली नजर नहीं आती।

         हरेभरे पेडो की चढा रहे बली

ग्रामिण इलाको मे हर वर्ष गर्मी लगते ही हरेभरे पेडो की अवैध कटाई चालु हो जाति है लकडी ठेकेदार द्धारा किसानो को चंद पैसा देकर उनके लकडी खरिद लेते है और मोटी रकम लेकर इंट भटठा या फिर बडे बडे होटलों को सप्लाई करते है हरेभरे भरे पेडो पे कुलहाडी लगाते वक्त एक बार भी नहीं सोंचते कि जल ही जिवन है और इसका कनेक्शप पेड पौधों से जुडा हुआ है इसी कारण दिन ब दिन पानी की वाटर लेवल गिर रहा है पौधा लगाने से कहीं जादा पौधों की कटाई हो रही है ऐसे लोगो पर शासन भी मेहरबान है कार्यवाही शुन्य के बराबर नहीं।


YOU MIGHT ALSO LIKE

पूर्व नगर पालिका उपाधयक्ष जाऊ दीन  तंवर एवं सायरा बानो ने कराया कोरोना का टिकाकरण

पूर्व नगर पालिका उपाधयक्ष जाऊ दीन तंवर एवं सायरा बानो ने कराया कोरोना का टिकाकरण

जानिए कब और कहां देख पाएंगे आज का सूर्य ग्रहण

जानिए कब और कहां देख पाएंगे आज का सूर्य ग्रहण

विभिन्न गौठानों में शिविर का आयोजन कर ग्रामीणों को किया गया जागरूक

विभिन्न गौठानों में शिविर का आयोजन कर ग्रामीणों को किया गया जागरूक

Recent News

Advertisement

© Copyright YamrajNews 2019. All Rights Reserved.